Rocky Abbas Bartan Dhote Dhote Youtube Se Paise Kaise Kamaye!?

रॉकी अब्बास (Rocky Abbas) आज एक सक्सेसफुल यूट्यूब क्रिएटर है। उनकी चैनल स्प्रीडिंग ज्ञान ऑफिसियल पर आज सताइस लाख से भी ज्यादा सब्सक्राइबर है। आज रॉकी हर महीने यूट्यूब के माध्यम से 8 से 10 लाख रुपए तक कमाते है पर हमेशा से उनका जीवन ऐसा नहीं था। रॉकी अब्बास जूठे बर्तन धोते थे और फिर यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए (Youtube Se Paise Kaise Kamaye)!?

youtube-se-paise-kaise-kamay
YouTube Se Paise Kaise Kamay

Rocky Abbas के पिता की चली गई नौकरी:

रॉकी ने भूतकाल में ऐसा समय भी देखा है जब उनके पिता परिवार का पेट पालने के लिए ठेला लगाकर बिरयानी बेचते थे और रॉकी पिता की मदद करते हुए वहाँ पर जूठी थालिया घिसते थे। तो चलिए विस्तार से जानते है रॉकी की यह मोटिवेशन से भरी कहानी।

रॉकी अब्बास (Rocky Abbas) का जन्म गोरखपुर उत्तर प्रदेश के एक मध्यम वर्ग के परिवार में हुआ था। रॉकी के परिवार में माता पिता, रॉकी का बड़ा भाई, एक छोटा भाई और एक छोटी बहन थी। कुल मिलकर परिवार में 6 सदस्य थे।    

रॉकी के पिता एक सामान्य ड्राइवर का काम करते थे और उनकी माता एक गृहणी थी। रॉकी के बड़े भाई को बचपन में सर पर चोट लगी थी जिसके कारण वह एपिलेप्सी यानि मिर्गी की बीमारी के शिकार थे।

तो रोकी के घर मात्र एक व्यक्ति उसके पिता चला रहे थे। रॉकी पढाई में अच्छे थे और उन्होंने 12वीं कक्षा विज्ञानं प्रवाह के साथ पास की थी। उनका सपना एक डॉक्टर बनने का था, इस लिए उसने बारवीं के बाद नीट एग्जामिनेशन की तैयारी भी शुरू कर दी थी।

अभी तक रॉकी अब्बास (Rocky Abbas) का जीवन बहुत सही जा रहा था। उसके पिता परिवार पर आने वाली हर समस्याओं के आगे ढाल बनके खड़े थे। रॉकी भी अब तक बेफिकर हो कर अपने जीवन का आनंद ले रहा था। पर एक दिन सब बदल गया।

रॉकी के पिता ड्राइवर है यानी उनको ज्यादातर समय गाड़ी में बैठे बैठे ही बिताना होता था और इसी के कारण उन्हें पीठ के दर्द की समस्या हो गई थी। अब वह ज्यादा देर तक बैठकर गाड़ी नहीं चला पाते थे और यह बात जब उन्होंने उनके मालिक से कही तब उन्हें उनकी नौकरी पर से निकल दिया गया।

अब घर में आमदनी आना बंध हो गया तो मानो सारे हालत ही पलट गए। 6 लोगो को परिवार था कब तक सब घर में बैठ कर खाते ? यह बात रॉकी के पिता को बड़ी परेशान करने लगी। उन्होंने कुछ छोटा-मोटा कारोबार करने का सोचा और अपनी कुछ बची पूंजी को देख कर उन्होंने एक बिरयानी की रेडी खोली।

Rocky Abbas धोता था जूठे बर्तन:

अब रॉकी अब्बास (Rocky Abbas) के पिता बिरयानी बनाते और एक बड़े पतीले में उसे ले जाकर बेचते थे। पुरे दिन वह मेहनत करते दूसरी तरह रॉकी भी पूरी जी-जान लगाकर नीट की तैयारी करने लगा और जब वह खाली होता था, तब वह पिता की मदद के लिए वह रेकडी पर आता और जूठी प्लेट धोता था।

दूसरी ओर उसकी माता घर के पास ही की एक जुमर-पर्दे बनाने वाली फैक्ट्री से माल ले आती और पुरे दिन घर के सभी काम जल्दी जल्दी निपटाकर उससे गूंथने लग जाती। करीबन चार से पांच घंटे की मेहनत के बाद वह बनकर त्यार होता था और उस एक जुमर के सिर्फ 20 रुपए मिलते थे।

पर वह 20 रुपए भी बड़ी दौलत के समान लगते थे क्यों की जिंदगी की परीक्षा जो चल रही थी। पिता भी अपनी और से पूरी कोशिश करते थे, कड़ी धूप में खड़े हो कर मेहनत करते थे पर जब रात को वह मुनाफा गिनते तो उनका दिल टूट जाता। पुरे दिन मेहनत करने पर भी वह 100-150-200 ही कमाते थे।

मेडिकल कॉलेज में मिला दाखिला:

परिवार अभी इन सारी परेशानियों से लड़ ही रहा था की एक बहुत बड़े सुख की या कहु की दुःख की एक लहर आई। रॉकी की मेहनत रंग लाई। उसने नीट परीक्षा में अच्छे नंबर हासिल किये और उसका एड्मिशन दिल्ली के एक सरकारी मेडिकल कॉलेज में हो गया। उसे MBBS तो नहीं मिला पर वह BDS यानि दाँत से जुडी पढाई करने की लिए चयनित हुआ।

बेटे का एडमिशन हो गया था और अब रॉकी डॉक्टर बनेगा इस बात से उसके पिता खुश तो बहुत थे पर मन में एक चिंता भी थी की वह खून पसीना एक करके कमाते है दिन के सिर्फ सो दोसो रुपए, तो वह कैसे बेटे रॉकी के एड्मिसन की फीस भरेंगे और साथी ही साथ रॉकी अगर दिल्ली जायेगा तो उसके रहने और खाने व्यवस्था भी करनी होगी।

रॉकी अब्बास (Rocky Abbas) के पिताने कुछ कर्ज, कुछ मदद मिल जाये इस विचार के साथ बहुत से रिस्तेदारो और दोस्तों को फोन किया पर सब यह जानते थे की रॉकी और उसका परिवार अभी बड़ी आर्थिक तंगी से गुजर रहा है। अगर उन्हें पैसे देंगे तो वह कभी नहीं लौटा पायेंगे। इस वजह से 99 परसेंट लोगो ने तो उनका फ़ोन ही उठाना छोड़ दिया था।

जिन लोगों से उन्होंने कर्जा ले रखा था जिसमे ज्यादातर उनके रिश्तेदार थे। वे उन्हें अक्सर ताने देते थे और बात बात पर खरी खोटी सुनाते थे। पिता की यह लाचारी और घर के हालात देख कर रॉकी मानो पूरा बदल ही गया था।

रॉकी अब्बास (Rocky Abbas) को अपने परिवार की मदद करनी थी और साथ ही साथ वह पढ़ना भी चाहता था। जैसे तैसे करके रॉकी दिल्ली तो आ गया पर अभी भी उसके मन में एक आग लगी थी की कुछ भी करके पिता की मदद करनी है।

कॉलेज में दाखिला होते ही रॉकी ने अपने आस पड़ोस की सारी छोटी बड़ी दुकानों में नौकरी के लिए बात कर ली। वह दुकान दार से कहता की वह कॉलेज के बाद काम पर आ जायेगा पर हर कोई उससे मना कर देता क्योकिं उन्हें कोई पुरे दिन काम कर सके ऐसा आदमी चाहिए था। 

रॉकी अब्बास (Rocky Abbas) बड़ी मेहनत मशक्कत से दिल्ली आया था तो वह पढाई भी नहीं छोड़ सकता था। रॉकी ने अपने हॉस्टल के आस पड़ोस के विस्तार में लोगो से बात की और उसे कुछ बच्चो के ट्यूशन पढ़ाने का काम मिल गया। अभी तक रोकी इस से संतुष्ट नहीं था।

ट्यूशन पढ़ाकर भी वह महीने के ज्यादा से ज्यादा बारासो से एक हजार तक कमा पा रहा था पर यह परिवार और पिता की मदद के लिए काफी नहीं था।

youtube-pe-paise-kaise-kamay
YouTube Pe Paise Kaise Kamay

एक वीडियो, ढेरो उम्मीद:

मुसीबत का समय काली रात की तरह होता है। देखने में तो वह डरावना होता है पर साथ ही साथ वह एक दिन ढल ही जाता है। ऐसा ही एक दिन रॉकी को एक नई राह मिली, नई उम्मीद मिली।

एक दिन रोकी की फोन में एक नोटिफिकेशन आता है, जिसमे लिखा होता है की, ‘हर महीने वीडियो बनाकर कमाओ लाखों!!’ जी हाँ, यह नोटिफिकेशन यूट्यूब का होता है। पहले तो रॉकी को यह मजाक लगता है पर फिर जिज्ञाशा वश हो कर वे उस नोटिफिकेशन पर क्लिक करता है और फिर एक वीडियो प्ले होता है।

वीडियो में एक यूट्यूबर बड़ी अच्छी तरह से समझता है की कैसे यूट्यूब से पैसे कमाए जा सकते है (Youtube Par Paise Kaise Kamaye) और साथ ही साथ अपनी कमाई भी देखता है। यूट्यूब से पैसे कमाने के लिए 1000 सब्सक्राइबर और 4000 घंटे का वॉच टाइम पूरा करना होता है।

यह बात रॉकी के मन में बैठ गई थी। उसे एक नई उम्मीद मिली थी। उसे अभी तक इस बात पर विश्वास तो नहीं था पर उसे एक बार यह मापदंड जरूर पूरा कर के देखना था की सचमुच पैसे आते भी है की नहीं?

रॉकी अब्बास (Rocky Abbas) के पास एक पुराना इंफीनिक्स का मोबाइल था। जिसका कैमरा ठीक ठाक था तो रॉकी अपने मोबइल में रिकॉर्डिंग शुरू कर के ऐसे ही बाजार में निकल गया और दिल्ली दर्शन का वीडियो बनाने लगा। अब उस वक्त तो ऐसे खुले में वीडियो बनाना और वह भी मोबाइल से, यह लोगों की भीड़ के लिए नई बात थी।

हर कोई बस रॉकी को ही देखे जा रहा था। उसकी यह पहली कोसिस थी और इस पहले ही प्रयत्न में लोगो की चुभती आँखों की वजह से वह बड़ा संकुचित महसूस कर रहा था। रॉकी को एक मिनट के लिए लगा भी की उसे वीडियो बनाना छोड़ देना चाहिए यह उसके बस की बात नहीं। 

तभी उसे अपने घर की परिस्थिति याद आ गई। चंद रुपियो के लिए मेहनत करती माँ, लोगो से गाली सुनता पिता और उसकी लाचारी से वह सहम गया। वह अब तक तो समज गया था की कोई उसकी मदद नहीं करेगा अगर उसे कुछ करना ही है तो अपने लिए खुद करना होगा।

वीडियो बनाते हुए मोबाइल हुआ चोरी:

इसी नई विचारधारा और प्रेणना के साथ वह फिर से बाजार में वीडियो बनाने के लिए निकल पड़ा। अभी तक उसके पहले वीडियो पर करीब 200 जीतने व्यूस आ चुके थे। 200 लोगों ने उसका वीडियो देखा यह भी उसके लिए प्रेणना का एक स्त्रोत था।

रॉकी ने बाजार के बीच में जाकर वीडियो बनाना शुरू तो किया पर किस्मत को मानो कुछ ओर ही मंजूर था। एक तेज बाइक चालक आया और रॉकी के हाथ में से मोबाइल छीनकर हवा की तरह निकल गया। यह सब इतनी तेज हुआ की रॉकी कुछ समज ही नहीं पाया।

कहते है ना की एक तो कोढ़ ऊपर से खुजली! रॉकी की हालत भी अब कुछ ऐसी ही थी। उसे एक उम्मीद की किरण नजर तो आई थी पर उसका सूरज उदय होने से पहले ही अस्त हो गया। मोबाइल चोरी हो गया है यह बात वह घर पर नहीं बता सकता था वरना माता-पिता परेशान हो जाते।    

रॉकी अब्बास (Rocky Abbas) ने अपने एक दोस्त के फोन में से अपने छोटे भाई को फोन लगाया और सारा किस्सा उसे विस्तार से बताया। साथ ही उसे यह बात गुप्त रखे को भी कहा। रॉकी ने अपने छोटे भाई से कुछ मदद मांगी की हो सके तो एक मोबाइल दिलवा दे। छोटे भाई ने बड़े भाई पर आई विपदाको देखकर कही से कुछ उधर पैसे जोड़े और एक नया मोबाइल अपने बड़े भाई को ले दिया।

रोकी ने अब पढाई के साथ साथ यूट्यूब पर वीडियो बनाकर अपलोड करना भी शुरू कर दिया था। इसी बीच कोरोना महामारी के कारण पुरे देश में लोकडाउन लग गया और रोकी को अपने शहर गोरखपुर वापस आना पड़ा।

एक बार रॉकी के पिता सामने ही बैठे थे और रॉकी फोन निकाल कर वीडियो बनाने लगा। रॉकी के पिता इतने आधुनिक विचार के व्यक्ति नहीं थे तो उन्हें यह सब अच्छा नहीं लगता था। उन्हों ने रॉकी को वीडियो बनाने से रोका। रॉकी ने उन्हें बहुत समझाया पर वे नहीं समजे।

अब रॉकी का घर में वीडियो बनना तो मानो बंद ही होगा था। रॉकी को कुछ हद तक बुरा भी लग रहा था की वह जिसके लिए मेहनत कर रहा है वही उसे सपोर्ट नहीं करते, पर वह सही है यह सिद्ध करने के लिए कोई सबूत नहीं था। वह दिन-ब-दिन अपने गोल के करीब पहुँचता जा रहा था और अब उसे यह बीच में अधूरा नहीं छोड़ना था।

रॉकी और उसका परिवार किराए के घर में रहते थे इस लिए उनके छत इस्तमाल करने को नहीं मिलती थी। तो रॉकी अपने एक दोस्त के घर की छत पर जा कर वीडियो बनाने लगा। जब वह वीडियो बनता तब सभी आसपड़ोस के लोग उसे तीखी आँखों से देखते थे।

मोहल्लेदार अब रॉकी के पिता के पास जाकर उनके कान भरने लगे की आपका बेटा तो हाथ से निकल गया है, यह, वो, वगेरा वगेरा। रॉकी के पिता भी पड़ोसियों की बातो में आ कर रॉकी को डाटने लगे, रोकने लगे, यहाँ तक की कई बार उस पर हाथ भी उठाने लगे।

इन सारी परेशानियों के बीच भी रॉकी किसी शब्दभेदी बाण की तरह अपने लक्ष्य की ओर बढ़ता रहा।

Rocky Abbas Ne YouTube Se Paise Kaise Kamaye:

देखते ही देखते दिन हफ्तों में बदल गए और हफ्ते महीनो में। 5 माह की मेहनत जो शाररिक भी थी और मानसिक भी उसके अंत में रॉकी की चैनल मॉनेटाइस हो गई। उसके अगले ही महीने रॉकी के बैंक अकाउंट में यूट्यूब की तरफ से उसकी पहली कमाई पुरे बीस हज़ार रुपए आये।

उसने यह पैसे सीधे ले जा कर अपने पिता के हाथो में रख दिए। पहले तो उसके पिता को विश्वास ही नहीं हुआ की वीडियो बनाकर भी पैसे कमाए जा सकते है पर जब रॉकी ने सारे सबूत बताये तब कही जा कर वह माने।

फिर तो यह सिलसिला चल पड़ा। अगले महीने पैसे बढ़कर तीस हजार हो गए और इसी के साथ मानो अब रात्री का अंत हो चूका था और रॉकी और उसके परिवार के जीवन में एक नये खुशहाल सवेरे की शुरुआत हो गई थी।

कुछ ही समय बाद जब रॉकी दिन दोगुना रात चौगुना कमा रहा था, जीवन में आगे बढ़ रहा था। इसी बीच उसके पिता की मृत्य हो गई पर उन्होंने अपने बेटे की कामयाबी के चढ़ते सूरज को जरूर देख लिया।

आज रॉकी हर महीने सिर्फ यूट्यूब से 8 से 10 लाख कमा रहा है। उसके पास आज खुद का घर है और उसका परिवार आज एक सपनो की जिंदगी जी रहा है। रॉकी की माताजी को आज भी अपने बेटे की कामयाबी सपना लगती है।

आपने यह Rocky Abbas ne Youtube Se Paise Kaise Kamaye? दिलचस्पी से पढ़ी इसका मतलब है की आपको ऐसी इंस्पिरेशनल रियल लाइफ स्टोरी (Inspirational Real Life Story) पढ़नी बहुत अच्छी लगती है। ऐसी ही हमारी ओर पुरानी प्रेरणादायक कहानी भी आपको पसंद आएगी, जैसे की रवी ने कैसे मोबाइल से कमाय पैसे? और नीरज हार कर भी जीत गया।

ऐसी ही नई कहानी के अपडेट के लिए हमारी टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कर लेना और प्रेरणादायक वीडियो के लिए हमारी यूट्यूब चैनल संघर्ष गाथा सब्सक्राइब कर लेना.

क्या सच में Youtube से पैसे कमाए जा सकते है?

जी हाँ, YouTube पर आप वीडियो बनाकर पैसे कमा सकते हो।

यूट्यूब पर पैसे कमाने के लिए कितने सब्सक्राइबर और वॉच टाइम होना जरुरी है?

यूट्यूब से पैसे कमाने के लिए 1000 सब्सक्राइबर और 4000 घंटे का वॉच टाइम होना जरुरी है।

रॉकी अब्बास की यूट्यूब चैनल का नाम क्या है?

रॉकी अब्बास की यूट्यूब चैनल का नाम SprearidingGyanOfficial है।

This Post Has One Comment

Leave a Reply